banner ad

मौत को मात दे गरजे IG कल्लुरी, नक्सलवाद खत्म करके ही लूंगा दम

srp-callori
जगदलपुर। बस्तर रेंज के आईजी एसआरपी कल्लुरी की आज बस्तर में धमाकेदार एंट्री हुई। एयरपोर्ट पर किसी नेता की तरह उनका भव्य स्वागत किया गया। नक्सली मुर्दाबाद नारों के बीच उन्होंने माओवादी और सफेदपोश माओवादियों को खुलेआम धमकी देते हुए कहा कि अब बस्तर से नक्सलवाद के नासूर को खत्म करके ही दम लूंगा। दरअसल, बस्तर में ही नहीं बल्कि प्रदेश में संभवतः ये पहला मामला मौका होगा, जब किसी आईपीएस अधिकारी का इतना भव्य स्वागत किया गया होगा। दरअसल, एक महीने पहले कल्लुरी को सीने में दर्द होने की शिकायत पर आनन-फानन में जगदलपुर से विशाखापत्तनम इलाज के लिए ले जाया गया था। वहां पर हुए मेडिकल चेकअप में ये बात सामने आयी कि एसआरपी कल्लुरी का बाई पास सर्जरी किया जाना है।
गंभीर बीमारी से जूझ रहे एसआरपी कल्लुरी का वहां आपरेशन शुरू हुआ और इधर माओवादी संगठनों ने जश्न मनाना शुरू कर दिया। बात तो यहां तक होने लगी कि अब बस्तर रेंज की कमान किसी और अधिकारी को सौंपी जाएगी। इस खबर से कल्लुरी के चाहने वालों में निराशा थी, तो वहीं माओवादी संगठन जंगल में जश्न मना रहे थे। लेकिन आज आईजी के बस्तर लौटेने के बाद उन सारी चर्चाओं पर विराम लग गया।
आईजी के स्वागत के लिए उमड़ा हुजूम
आईजी के आने की खबर सुन एयरपोर्ट पर उनके चाहने वालों का हुजूम उमड़ पड़ा और जिंदाबाद के नारों के बीच नक्सली मुर्दाबाद के नारे भी लगाए गए।
अब नक्सलियों के जश्न का क्या होगा?
आईजी ने कहा कि जब मैं जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रहा था। उस दौरान मुझे आंध्र की फोर्स ने मुझे खून देकर मेरी रक्षा की और ऐसे में अब मेरी रगों में एपी ग्रेहाऊडस का खून भी दौड़ रहा है। ऐसे में नक्सली अब सोच लें कि उनके जश्न मनाने के परिणाम का क्या होगा।
हीरो की तरह आईजी कल्लुरी ने मारी एंट्री
किसी फिल्म की हीरो की तरह बस्तर आईजी का लोगों ने स्वागत किया। उसके बाद सीधे कल्लुरी अपने परिवार के साथ के बस्तर की आराध्य देवी मां दंतेश्वरी के दरबार पहुंचे। जहां पूजा अर्चना के बाद जनसभा को भी संबोधित किया।
नक्सल ऑपरेशन में फिर आएगी तेजी
बहरहाल बस्तर रेंज के आईजी ने रेंज कार्यालय पहुंचकर विधिवत अपना कार्यभार ग्रहण किया और उसके बाद संभाग के एसपी की जरूरी मीटिंग भी ली। उनके हिम्मत और हौंसले को देखते हुए बस्तर के लोग अब ये मान रहे हैं कि बस्तर में चल रहे नक्सल ऑपरेशन में और तेजी आएगी। with thanks from http://hindi.eenaduindia.com/

Filed Under: featuredविविध

RSSComments (0)

Trackback URL

Comments are closed.