banner ad

छत्तीसगढ़ के पिछड़े इलाकों में विकास की बयार

raman-singh
डॉ. रमन सिंह : मुख्यमंत्री ने किया 28.31 करोड़ के विकास कार्यों की सौगात
स्वच्छता रथ के रूप में यात्री बस सेवा का भी मुख्यमंत्री ने किया शुभारंभ
रायपुर. मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज राजनांदगांव जिले के नक्सल हिंसा पीड़ित मानपुर विकासखण्ड के ग्राम औंधी में विशाल आम सभा को संबोधित करते हुए कहा – राज्य के आदिवासी बहुल पिछड़े इलाकों में अब शांतिपूर्ण विकास की बयार बहने लगी है। डॉ. सिंह ने कहा-छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है जिसने अपने यहां के गरीबों को भोजन का अधिकार दिलाने के लिए देश का पहला खाद्य सुरक्षा और पोषण सुरक्षा कानून बनाया है। इस कानून के जरिए सार्वजनिक वितरण प्रणाली की राशन दुकानों से लगभग 60 लाख गरीब परिवारों को सस्ता अनाज और निःशुल्क आयोडिन नमक मिल रहा है। प्रदेश के किसी भी व्यक्ति को भोजन की चिंता नहीं है। गरीब परिवारों को सिर्फ एक रूपए किलो में चावल मिल रहा है। इससे गरीबों के जीवन में सकारात्मक बदलाव आने लगा है। उन्हें भूख की समस्या से मुक्ति मिली है। उन्होंने आम सभा में क्षेत्र की जनता को लगभग 28 करोड़ 31 लाख रूपए के विकास कार्यों की सौगात दी। डॉ. सिंह ने इनमें से 16 करोड़ 73 लाख के पूर्ण हो चुके विभिन्न निर्माण कार्यों का लोकार्पण और ग्यारह करोड़ 58 लाख रूपए के नये स्वीकृत कार्यों का भूमिपूजन और शिलान्यास किया। उन्होंने लोकसभा सांसद श्री अभिषेक सिंह के आग्रह पर औंधी सिंचाई जलाशय की नहर लाईनिंग के लिए पांच करोड़ रूपए और हल्बा समाज के आग्रह पर औंधी में सर्वसमाज मंगल भवन निर्माण के लिए 25 लाख रूपए तत्काल मंजूर करने का ऐलान किया। डॉ. सिंह ने आम सभा स्थल पर मिनी स्टेडियम बनवाने की भी घोषणा की। डॉ. सिंह ने मानपुर विकासखण्ड को खुले में शौचमुक्त बनाने में मिली शानदार कामयाबी के लिए जनता को बधाई दी और क्षेत्र के छुरिया-बंजारी से तुमड़ीबोड होते हुए राजनांदगांव तक स्वच्छता रथ के नाम से यात्री बस सेवा का शुभारंभ किया। डॉ. सिंह ने इस बस को हरी झण्डी दिखायी। इस यात्री बस की टिकटों पर स्वच्छता का संदेश भी अंकित रहेगा और बस में लोगों को स्वच्छता के महत्व पर आधारित मनोरंजक गीत भी सुनाए जाएंगे। डॉ. सिंह ने ग्राम औंधी की आम सभा में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत 250 गरीब परिवारों को महिलाओं के नाम पर निःशुल्क रसोई गैस कनेक्शन तथा सौर सुजला योजना के तहत 11 किसानों को सोलर सिंचाई पम्प सहित विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को सामग्री और चेक आदि का भी वितरण किया।
डॉ. रमन सिंह ने कहा कि कल तक नक्सल हिंसा और आतंक से पीड़ित औंधी क्षेत्र में अब विकास की बयार बहने लगी है। इलाके में बदलाव आ रहा है। छत्तीसगढ़द सरकार के खाद्य सुरक्षा कानून से जहां छत्तीसगढ़ को भूख मुक्त राज्य बनाने में सफलता मिली है, वहीं गरीबों के जीवन में भी अच्छा बदलाव आया है। डॉ. सिंह ने इस अवसर पर औंधी से कोहका सड़क चौड़ीकरण, औंधी से ही मुरूम गांव तक सड़क निर्माण, औंधी में पेयजल योजना के लिए टंकी निर्माण की मंजूरी देने की घोषणा की। डॉ. सिंह ने ग्राम पंचायत औंधी के तीन वार्डो में सीमेंट कान्क्रीट सड़क निर्माण के लिए कुल 15 लाख रूपए मंजूर करने का भी ऐलान किया। उन्होंने आम सभा के दौरान जिले के तीन विकासखण्डों में लगभग दो करोड़ 43 लाख रूपए की लागत से निर्मित तीन छात्रावास भवनों का लोकार्पण किया। इनमें विकासखण्ड अम्बागढ़ चौकी टोला में निर्मित प्री-मेट्रिक अनुसूचित जनजाति कन्या छात्रावास भवन, विकासखण्ड मोहला के ग्राम वासडी में 73 लाख 48 हजार रूपए की लागत से निर्मित अनुसूचित जनजाति बालक छात्रावास भवन और विकासखण्ड मानपुर के ग्राम सीतागांव में 97 लाख 44 हजार रूपए की लागत से निर्मित प्री-मेट्रिक बालक छात्रावास भवन शामिल है। मुख्यमंत्री ने औंधी में दो करोड़ रूपए की लागत से निर्मित पुलिस थाना भवन और सात करोड़ लागत इलाके के ग्राम पोतरी और दिघवाड़ी में बने दो एनीकटों का भी लोकार्पण किया। कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत, लोकसभा सांसद श्री अभिषेक सिंह और विधायक श्रीमती तेजकुंवर नेताम सहित क्षेत्र के अनेक वरिष्ठ जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा – मैं मानपुर-मोहला से लंबे समय से जुड़ा हूूॅ ,यहां की समस्याओं से वाकिफ हूॅ। प्राथमिकता के आधार पर समस्याओं का निराकरण चरणबद्ध तरीके से किया जा रहा है। अगले दो साल के भीतर इस क्षेत्र के हर पारे टोले में बिजली पहुंचा दी जाएगी। यह क्षेत्र निरंतर आगे बढेगा और शांति के साथ विकास होगा। उन्होंने कहा – प्रदेश के माता-पिता को अब अपने बच्चों के इलाज की चिंता करने की आवश्यकता नहीं। मुख्यमंत्री बाल ह्दय सुरक्षा योजना के तहत बच्चों के ह्दय की बीमारी का निःशुल्क इलाज कराया जा रहा है, प्रदेश मंे अब तक 5000 से अधिक बच्चों का इलाज कराया जा चुका है। जब इन बच्चों को स्वस्थ होकर खेलते देखता हूॅ, तब मुझे बहुत खुशी होती है। इस योजना के अन्तर्गत औंधी ग्राम के 27 बच्चों का इलाज भी प्राथमिकता के आधार पर कराया जाएगा। मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत सभी परिवारों को स्मार्ट कार्ड के तहत बहुत जल्द 50 हजार रूपए तक निःशुल्क इलाज की सुविधा मिलेगी। उन्होंने सभी लोगों से स्वास्थ्य स्मार्ट कार्ड बनवाने की अपील भी की। उन्होंने कहा कि राज्य के किसानों को खेती के लिए ब्याजमुक्त ऋण दिया जा रहा है।
डॉ. रमन सिंह ने प्रधानमंत्री उज्जवला योजना की जानकारी देते हुए कहा – यह प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा प्रारंभ की गई एक विलक्षण योजना है। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा इस योजना में सिर्फ 200 रूपए के पंजीयन शुल्क पर महिलाओं को गैस कनेक्शन दिया जा रहा है। इसके तहत राजनांदगांव जिले में दो साल के भीतर डेढ़ लाख परिवारों को गैस कनेक्शन दिया जाएगा। इस योजना प्रदेश में करोड़ों पेड़ कटने से बच जाएंगे और महिलाओं को रसोई घरों के धुंऐ से भी राहत मिलेगी। डॉ. सिंह ने सौर सुजला योजना की भी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि  इसके तहत चार से साढ़े चार लाख रूपए तक कीमत के सोलर सिंचाई पंप, अनूसुचित जाति -जनजाति वर्ग के किसानों को 10 हजार रूपए, अन्य पिछड़ा वर्ग के किसानों को 15 हजार रूपए और सामान्य वर्ग के किसानों को 20 हजार रूपए में दिए जाएंगे। औंधी के नदी के किनारे वाले किसान इसका अवश्य लाभ ले और मक्के का उत्पादन में सहयोग ले। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने लगभग 50 किसानों को हाईब्रिड मक्का बीज और आधुनिक खेती के लिए कृषि यंत्रों का, मछली पालन के लिए वे लगभग 10 मछली पालक किसानों (मछुआरों) को जाल, आईस बाक्स और सिफेक्श का तथा 11 हितग्राहियों को सौर ऊर्जा से चलने वाले पंपों के लिए कट आऊट का भी वितरण किया। सांसद अभिषेक सिंह ने भी जनता को संबोधित किया।

Please follow & like us:

Filed Under: featuredसभा-संगत

RSSComments (0)

Trackback URL

Comments are closed.

Follow by Email40
Facebook206
Google+60
http://www.hellocg.com/?p=4791">
Twitter140