असाधारण जोगी _______________ -दिवाकर मुक्तिबोध अजीत जोगी पर क्या लिखूँ ? करीब दस साल पूर्व उनकी राजनीति व उनके व्यक्तित्व के विभिन्न पहलुओं पर आलोचनात्मक दृष्टि डाली थी। कई पन्नों का यह लेख ब्लाग में पड़ा रहा, बाद में कुछ पोर्टलों पर नमूदार हुआ और दिल्ली की पत्रिका ‘दुनिया इनRead More →

31 जनवरी : बाबा साहब भीम राव अंबेडकर की प्रकाशित `मूकनायक` पत्र की 100वीं सालवर्षगांठ संजय स्वदेश बाबा साहब भीम राव अंबेडकर ने 31 जनवरी 1920 को मराठी पाक्षिक ‘मूकनायक’ का प्रकाशन प्रारंभ किया था. सौ साल पहले पत्रकारिता पर अंग्रेजी हुकूमत का दबाव था. दबाव से कई चीजे प्रभावितRead More →

संवाददाता, रायपुर. आदिवासी अस्मिता : कल आज और कल विषय पर रायपुर में आयोजित तीन दिवसीय राष्‍ट्रीय शोध संगोष्‍ठी में महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विवि वर्धा के बौद्व अध्‍ययन केंद्र के प्रभारी निदेशक डॉ सुरजीत कुमार सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ के सभी विश्वविद्यालयों और राजकीय महाविद्यालयों में आदिवासी अध्ययनRead More →

आदिवासियों की कला, संस्‍कृति  एवं  विकास के लिए छत्‍तीसगढ़ सरकार प्रतिबद्व – तीन दिवसीय राष्‍ट्रीय शोध संगोष्‍ठी के दूसरे दिन मुख्‍यमंत्री व केबिनेट मंत्री भी हुए शामिल संवाददाता रायपुर । प्रदेश के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने आदिवासियों के विकास और उत्‍थान के लिए किए जा रहे कार्यों के बारे में बताया किRead More →

  पुरस्कारस्वरूप प्रशस्ति प्रमाण-पत्र, एक लाख रुपये एवं अंगवस्त्र प्रदान किया गया संवाददाता, नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के जनपद मैनपुरी के आलीपुर खेडा के समीप स्थित गाँव मानिकपुर में राम औतार शाक्य एवं विमला देवी के पुत्र के रूप में जन्मे डा. ज्ञानादित्य शाक्य को भारत के उपराष्ट्रपति श्री वेंकैयाRead More →